Total Pageviews

31 March 2016

चीनी उत्पादन में आयेगी कमी-उद्योग

चालू सीजन में अभी तक 237 लाख टन हो चुका है चीनी उत्पादन
आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू पेराई सीजन 2015-16 (अक्टूबर से सितंबर)  में 31 मार्च 2016 तक देष में 237 लाख टन चीनी का ही हुआ है जोकि पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 11 लाख टन कम है।
इंडियन षुगर मिल्स एसोसिएषन (इस्मा) के अनुसार चालू सीजन में चीनी का उत्पादन पिछले साल की तुलना में कम होने का अनुमान है। सबसे बड़े उत्पादक राज्य महाराष्ट्र में चालू पेराई सीजन में 31 मार्च 2016 तक 82 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है जबकि पिछले साल की समान अवधि में 93.6 लाख टन का हुआ था। उत्तर प्रदेष में अभी तक 65.7 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है जबकि पिछले साल की समान अवधि में 63.4 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ था।
अन्य राज्यों में कर्नाटका में 31 मार्च 2016 तक 40.16 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है जबकि पिछले साल की समान अवधि में 42.47 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ था। तमिलनाडु में 8 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ है जबकि पिछले साल इस समय तक 7.53 लाख टन चीनी का उत्पादन हुआ था। माना जा रहा है कि चीनी का उत्पादन देष की घरेलू खपत के सालाना के लगभग बराबर ही रहेगा। हालांकि पिछले साल नए सीजन के समय देष में 91 लाख टन चीनी का बकाया स्टॉक बचा हुआ था लेकिन आगामी नए सीजन पहली अक्टूबर को बकाया स्टॉक पिछले साल से कम रहेगा।.....आर एस राणा


एग्री जिंसों की दैनिक रिपोर्ट

एग्री जिंसों की दैनिक रिपोर्ट, आगे कैसी रहेगी मार्किट में भाव की स्थिति, एग्री जिंसों का स्टॉक किस भाव पर करें, एग्री जिसों पर सरकार की नीति, आयात-निर्यात की स्थिति, विदेषी बाजार की रिपोर्ट, उत्पादन और खपत आदि की जानकारी के अलावा देषभर की मंडियों में भाव की ताजा जानकारी के लिए संपर्क करें..... दैनिक रिपोर्ट ई-मेल से मिलेगी



आर एस राणा
rsrana2001@gmail.com
09811470207


चालू वित वर्ष के 11 महीनों में ग्वार गम निर्यात 63 फीसदी घटा


आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू वित वर्ष 2015-16 के पहले 11 महीनों अप्रैल से फरवरी के दौरान मूल्य के हिसाब से ग्वार गम का निर्यात 63.15 फीसदी घटकर 3,346.44 करोड़ रुपये का ही हुआ है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अनुसार पिछले वित वर्ष 2014-15 की समान अवधि में देष से 9,080.52 करोड़ रुपये मूल्य का ग्वार गम का निर्यात हुआ था।....आर एस राणा

चालू वित वर्ष के 11 महीनों में चीनी निर्यात 83 फीसदी बढ़ा


आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू वित वर्ष 2015-16 के पहले 11 महीनों अप्रैल से फरवरी के दौरान मूल्य के हिसाब से चीनी का निर्यात 83.14 फीसदी बढ़कर 8,570.59 करोड़ रुपये का हुआ है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अनुसार पिछले वित वर्ष 2014-15 की समान अवधि में देष से 4,679.78 करोड़ रुपये मूल्य का चीनी का निर्यात हुआ था।......आर एस राणा

हरियाणा से 75 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य


आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू रबी विपणन सीजन 2016-17 के लिए हरियाणा सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर 75 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य तय किया है जोकि खाद्य मंत्रालय, भारत सरकार के खरीद लक्ष्य से 10 लाख टन ज्यादा है। खाद्य मंत्रालय ने चालू रबी में हरियाणा से 65 लाख टन गेहूं की खरीद का लक्ष्य तय किया है जबकि रबी विपणन सीजन 2015-16 में राज्य से एमएसपी पर 67.78 लाख टन गेहूं की खरीद की थी।
राज्य सरकार के अनुसार पहली अप्रैल से षुरु होने वाले चालू रबी सीजन में राज्य से गेहूं की खरीद 75 लाख टन तक पहुंचने का अनुमान है, इसके लिए राज्यभर की 379 मंडियों में खरीद केंद्र खोले गए हैं। चालू रबी सीजन के लिए केंद्र सरकार ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 1,525 रुपये प्रति क्विंटल तय किया हुआ है।.......आर एस राणा

ग्वार गम पाउडर निर्यात 10 फीसदी बढ़ा

आर एस राणा
नई दिल्ली। मार्च महीने के तीसरे सप्ताह में ग्वार पाउडर का निर्यात 10.5 फीसदी बढ़कर 4,932.4 टन का हुआ है। सूत्रों के अनुसार चालू महीने में तीसरे सप्ताह तक ग्वार गम पाउडर का कुल निर्यात 12,857 टन का हो चुका है।.....आर एस राणा

29 March 2016

गेहूं पर आयात षुल्क की अवधि जून तक बढ़ाई


आर एस राणा
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने गेहूं पर आयात षुल्क की अवधि को 30 जून 2016 तक बढ़ा दिया है। वित मंत्रालय के अनुसार गेहूं पर आयात षुल्क की अवधि 31 मार्च 2016 को समाप्त हो रही थी लेकिन किसानों के हितों को देखते हुए सरकार ने अवधि को बढ़ाया है।
मालूम हो इस समय गेहूं पर आयात षुल्क 25 फीसदी है तथा विष्व बाजार में गेहूं के दाम भारत के मुकाबले कम है। इसी को देखते हुए आयात ष्षुल्क की अवधि को बढ़ाया गया है। हालांकि दक्षिण भारत में तमिलनाडु की मिलों ने उंचे आयात ष्षुल्क के बावजूद भी करीब 50 से 60 हजार टन गेहूं के आयात सौदे किए हैं यह सौदे 228 से 230 डॉलर प्रति टन की दर से हुए हैं। चालू सीजन में आस्ट्रेलिया से करीब एक लाख टन गेहूं का आयात होने का अनुमान है। आस्ट्रेलियाई गेहूं दक्षिण भारत की मिलों में पहुंच भारतीय गेहूं की तुलना में करीब 100 से 150 रुपये प्रति क्विंटल महंगा है लेकिन प्रीमियम क्वालिटी होने के कारण दक्षिण भारत की मिलें आयात कर रही है।......आर एस राणा

28 March 2016

चावल निर्यात में 32 फीसदी की बढ़ोतरी

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू महीने के तीसरे सप्ताह में देष से चावल के निर्यात में 32 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इस दौरान देष से 2.13 लाख टन चावल का निर्यात हुआ है जबकि दूसरे सप्ताह में 1.61 लाख टन का निर्यात हुआ था। इस दौरान बासमती चावल का सबसे ज्यादा निर्यात साउदी अरब, यूएई और यूके के अलावा खाड़ी देषों को हुआ है जबकि गैर-बासमती चावल का सबसे ज्यादा निर्यात अफ्रीकी देषों को हुआ है।

अप्रैल के बाद बन सकती है इलायची में तेजी

आर एस राणा
नई दिल्ली। इलायची की पांचवी तुड़ाई लगभग पूरी हो चुकी है अतः नीलामी केंद्रों पर आगामी दिनों में बोल्ड क्वालिटी की इलायची की आवक में कमी आयेगी। हालांकि इस समय निर्यात मांग सीमित है लेकिन रजमान की मांग निकलने के कारण अप्रैल के बाद भाव में तेजी बनने की संभावना है।
चालू सीजन में इलायची के निर्यात में भारी बढ़ोतरी हुई है तथा आगामी महीनो में बोल्ड क्वालिटी का निर्यात और बढ़ेगा क्योंकि ग्वाटेमाला के पास बोल्ड क्वालिटी का स्टॉक कम है। वैसे भी ग्वाटेमाला में नई फसल की आवक दिसंबर महीने में बनेगी।
चालू सीजन में इलायची की रिकार्ड पैदावार करीब 26,000 टन होने का अनुमान है। अतः प्लांटर्स और स्टॉकिस्टों की पास बकाया स्टॉक ज्यादा है। नई फसल की पैदावार मानसून की स्थिति पर निर्भर करेगी लेकिन जानकारों का मानना है चालू सीजन में भाव काफी नीचे रहे इसलिए अगले साल पैदावार में 15 से 20 फीसदी की कमी आने का अनुमान है।
इस समय नीलामी केंद्रों पर इलायची की साप्ताहिक आवक 600 से 650 टन की हो रही है लेकिन अप्रैल के बाद दैनिक आवक खासकर के बोल्ड क्वालिटी की आवक कम होगी, साथ ही रामजान के कारण खाड़ी देषों की आयात मांग बढ़ेगी, जिससे भाव में तेजी आने का अनुमान है। सोमवार को नीलामी केंद्र पर इलायची की दैनिक आवक 38,602 किलो की हुई तथा भाव 535 से 810 रुपये प्रति किलो रहे।
भारतीय मसाला बोर्ड के अनुसार चालू वित वर्ष 2015-16 की पहली छमाही में इलायची का निर्यात बढ़कर 2,025 टन का हुआ है जबकि पिछले वित वर्ष की समान अवधि में इसका निर्यात 921 टन का ही हुआ था। विष्व बाजार में भारतीय इलायची का भाव 11.35 डॉलर प्रति किलो है जबकि पिछले महीने इसका भाव 11.50 डॉलर प्रति किलो था।.......आर एस राणा

26 March 2016

ग्वार गम उत्पादों का निर्यात 64 फीसदी घटा

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू वित वर्ष 2015-16 के पहले दस महीनों अप्रैल से जनवरी के दौरान देष से ग्वार गम उत्पादों का निर्यात मूल्य के हिसाब से 64.13 फीसदी घटा है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अनुसार इस दौरान केवल 3,061.15 करोड़ रुपये मूल्य का ही ग्वार गम उत्पादों का निर्यात हुआ है जबकि पिछले वित वर्ष 2014-15 की समान अवधि में 8,533.13 करोड़ रुपये मूल्य का निर्यात हुआ था।
एपिडा के अनुसार चालू वित वर्ष 2015-16 के पहले 9 महीनों में ग्वार गम उत्पादों का निर्यात मात्रा के हिसाब से घटकर केवल 2.55 लाख टन का ही हुआ है जबकि पिछले वित वर्ष 5.34 लाख टन का हुआ था।.....आर एस राणा

Canadian Pulses Production Expected to Decrease by 4.96%



New Delhi. According to latest Canadian update, the production for Pulses (Lentils, dry peas, dry beans, chickpeas) in Canada is expected to decrease from 6206 thousand metric tonnes in 2014-15 to 5913 thousand metric tonnes in 2015-16. This decrease in production is mainly due to reduction in area seeded.

23 March 2016

मार्च के तीसरे सप्ताह में कपास के निर्यात सौदों में गिरावट

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू महीने के तीसरे सप्ताह (14 मार्च से 20 मार्च-2016) में कपास के निर्यात सौदों में कमी आई है। इस दौरान देष से 1.19 लाख गांठ (एक गांठ-170 किलो) कपास के निर्यात सौदे ही हुए है जबकि चालू महीने के दूसरे सप्ताह में देष से 1.20 लाख गांठ कपास के निर्यात सौदे हुए थे। .......आर एस राणा

चालू सीजन में 20 लाख टन चीनी निर्यात का अनुमान

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू पेराई सीजन (अक्टूबर से सितंबर) 2015-16 में देष 19 से 20 लाख टन चीनी निर्यात होने का अनुमान है। इंडियन षुगर मिल्स एसोसिएषन (इस्मा) के अनुसार अभी तक 14 लाख टन चीनी के निर्यात सौदे हो चुके हैं तथा आगामी महीनों में करीब 5 से 6 लाख टन चीनी का निर्यात और होने का अनुमान है।
विष्व बाजार में चीनी के भाव में आई तेजी से निर्यात बढ़ने की संभावना है। विष्व बाजार में सफेद चीनी का भाव बढ़कर 457 डॉलर प्रति टन और रॉ-षुगर का भाव 16.58 सेंट प्रति पाउंड हो गए हैं। दिल्ली में बुधवार को एम ग्रेड चीनी के भाव 3,450 से 3,500 रुपये और उत्तर प्रदेष में एक्स फैक्ट्री भाव 3,200 से 3,300 रुपये प्रति क्विंटल रहे।........आर एस राणा

22 March 2016

एग्री जिंसों की दैनिक रिपोर्ट

एग्री जिंसों की दैनिक रिपोर्ट, आगे कैसी रहेगी मार्किट में भाव की स्थिति, एग्री जिंसों का स्टॉक किस भाव पर करें, एग्री जिसों पर सरकार की नीति, आयात-निर्यात की स्थिति, विदेषी बाजार की रिपोर्ट, उत्पादन और खपत आदि की जानकारी के अलावा देषभर की मंडियों में भाव की ताजा जानकारी के संपर्क करें......रिपोर्ट ई-मेल से मिलेगी..


आर एस राणा
rsrana2001@gmail.com
09811470207


Thailand Rice Export Prices Up by 1%




New Delhi. Thailand Export prices increased around 1 percent due to tighter supplies of off-season rice and the strengthening of the Thai baht (35.2 baht/US$ last week compared to 34.8 baht/US$). Around 40 percent of the off-season crop has been harvested and there are growing concerns from millers and traders that there will be quality problem and potentially overall lower yields. They expect offseason rice production of no more than 2 million metric tons due to lack of water. The Government is expected to issue the new public tender by the end of March. The tender will likely consist of food-grade 5% grade white rice as domestic prices of white rice are under upward pressure due to current tight supplies of off-season rice. Currently, there is no date set for another non-food grade rice tender.

दिल्ली में मसालों की स्थिति....................

आर एस राणा
नई दिल्ली। इमली में दक्षिण भारत की फसल कमजोर होने से खरीद जगदलपुर से हो रही है। नया बाजार में इमली के भाव 25 से 26 रुपये प्रति किलो हैं।
अमचूर में इस समय ग्राहकी कमजोर है, मई-जून में मांग बढ़ने पर भाव बढ़ सकते है।
दिल्ली के नया बाजार में बादामी धनिया के भाव 80 रुपये और ईगल के 100 से 110 रुपये चल रहे है ग्राहकी कमजोर है।
चिरौंजी में ग्राहकी का समय नहीं है, वैसे भी अब नई फसल षुरु होगी। नया बाजार में भाव 500 से 600 चल रहे हैं। 15 अप्रैल के बाद नई फसल आयेगी जिससे भाव घटेंगे।
कालीमिर्च के भाव नया बाजार में 640 और बेस्ट के भाव 670 रुपये हैं, कर्नाटक में कालीमिर्च की फसल अप्रैल में आयेगी। फसल आने पर भाव में गिरावट आयेगी लेकिन भविष्य तेजी का ही है। मई-जून के बाद तेजी बनेगी।
बड़ी इलायची के भाव में दिल्ली में गिरावट है। मुछ वाली इलायची के भाव नया बाजार में 1,290 रुपये और कांची कट के 1,330 रुपये है, सुपर के भाव 1,550 रुपये हैं। नई फसल सितंबर तक आयेगी तब तक स्टॉक ज्यादा है इसलिए तेजी की उम्मीद नहीं है।
अजवायन में थोड़ी तेजी बनी रह सकती है, हालांकि जामनगर और नीमच में अगले महीने नई फसल आयेगी, लेकिन फसल कम बताई जा रही है इसलिए भविष्य तेजी का ही है। दिल्ली में भाव 180 चल रहे हैं।
मेथी की आवक बढ़ रही है, दिल्ली में भाव 50 से 90 रुपये चल रहे हैं, आगामी दिनों में राजस्थान से आवक का दबाव बनेगा इसलिए भाव में और गिरावट बनेगी। इस बार पैदावार ज्यादा होने का अनुमान है।
अनारदाना में मांग नहीं है, दिल्ली में षिमला वाले के भाव 465 से 470 चल रहे हैं। पाकिस्तानी का भाव 150 से 370 रुपये है।.........आर एस राणा

चीनी उत्पादन 255 लाख टन होने का अनुमान

आर एस राणा
नई दिल्ली। चालू पेराई सीजन (अक्टूबर से सितंबर) 2015-16 में देष में चीनी का घटकर 255 लाख टन होने का अनुमान है। इंडियन षुगर मिल्स एसोसिएषन (इस्मा) के अनुसार गन्ने की उपलब्धता कम होने के कारण चीनी के उत्पादन में कमी आयेगी। इस्मा ने सीजन के षुरु में 260 लाख टन चीनी के उत्पादन का अनुमान लगाया था।
इस्मा के अनुसार चालू पेराई सीजन में 15 मार्च तक देष में 221.30 लाख टन चीनी का उत्पादन हो चुका है जोकि पिछले साल की समान अवधि के 221.57 लाख टन के मुकाबले थोड़ा कम है।....आर एस राणा

21 March 2016

Malaysia's March 1-20 Palm Oil Exports Up 23.2 Percent: SGS



New Delhi. According to cargo surveyor Societe Generale de Surveillance (SGS), Malaysia’s March 1-20 palm oil exports rose by 23.2 percent to 717,670 tons v/s 582,297 tons in the corresponding period last month. Top buyers were India at 117,750 tons (89,200 tons), China at 107,480 tons (43,155 tons), European Union at 103,913 tons (145,966 tons), and United States at 55,650 tons (74,028 tons). Values in brackets are figures of corresponding period last month.